Friday, August 5, 2016

Humne bhi kabhi

हमने भी कभी चाहा था एक ऐसे शख्स को, 
जो आइने से भी नाज़ुक था मगर था पत्थर का..!!

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment