Saturday, January 14, 2017

Kamal hai n sase meri

कमाल है न साँसें मेरी... जिंदगी मेरी...मोहब्बत मेरी
मगर हर चीज़ मुकम्मल करने के लिए ज़रूरत तेरी ..!!!

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment