Wednesday, February 22, 2017

Jhuka leta hu

झुका लेता हूँ अपना सर हर मज़हब के आगे,

पता नहीं किस दुआ में तुझे मेरा होना लिखा हो...!!!

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment